Read in App

Daily Insider Desk
• Tue, 12 Jul 2022 6:22 pm IST


स्वास्थ्य महानिदेशालय पर 14 जुलाई को होगा महा धरना, जानिए वजह

लखनऊ: उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने स्वास्थ्य महानिदेशालय द्वारा किए गए कथित अनियमित स्थानांतरण को निरस्त करने की मांग की है। इसी क्रम में आज राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद द्वारा घोषित महानिदेशालय पर धरने की तैयारी को लेकर बलरामपुर चिकित्सालय में जनपद शाखा की बैठक आयोजित की गई।  इस दौरान जिला अध्यक्ष सुभाष श्रीवास्तव मौजूद रहे। बैठक में चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग के सभी संवर्गों के पदाधिकारी भी उपस्थित थे। सभी ने एकमत से कहा कि 14 जुलाई को स्वास्थ्य महानिदेशालय पर विशाल धरना सम्पन्न होगा।

स्थानांतरण को बनाया गया कमाई का साधन

पदाधिकारियों ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि पिछली गलतियों से सबक न लेते हुए एक बार पुनः स्वास्थ्य महानिदेशालय द्वारा स्थानांतरण को कमाई का साधन बनाते हुए अनैतिक रूप से जल्दबाजी में स्थानांतरण सूची जारी की गई है, जो निरस्त होने योग्य है। बैठक में परिषद के महामंत्री अतुल ने कहा कि स्वास्थ्य महानिदेशालय द्वारा स्थानांतरण की अंतिम तारीख के बाद विभिन्न संवर्गों के स्थानांतरण की सूची जारी की गई। समायोजन के नाम पर भी स्थानांतरण किया गया है। बैठक में प्रांतीय अध्यक्ष सुरेश रावत ने कहा कि कुछ पदाधिकारियों के भी स्थानांतरण किए गए, कई पदाधिकारियों का समायोजन अन्य जनपद कर दिया गया।

ये रहे मौजूद

बैठक में परिषद के संगठन प्रमुख केके सचान, प्रमुख उपाध्यक्ष सुनील यादव, ज़ीएम सिंह (प्रदेश अध्यक्ष ऑप्टॉमट्रिस्ट एसो जनपद) मंत्री संजय पांडेय, महेश प्रसाद (अध्यक्ष लैब टेक्निशयन) संतोष जौहरी, अरविंद गुप्ता, दिनेश कुमार, जेके निगम, राम प्रसाद, राजेश चौधरी, डीडी त्रिपाठी, राजीव तिवारी, कमल श्रीवास्तव, सुनील यादव लैब टेक्निशयन योगेश उपाध्याय भानु आदि उपस्थित रहे।