Read in App

Daily Insider Desk
• Wed, 13 Jul 2022 8:24 pm IST


27 पेड़ों से अनुकूल बनाइए परिस्थितियां : राजेंद्र तिवारी

ज्योतिषाचार्य से जानते हैं कैसे दूर होती है जातक की परेशानी
लखनऊ। जिस तरह हर ग्रह और राशियों के अपने-अपने वृक्ष होते हैं, वैसे ही हर नक्षत्र के भी अपने वृक्ष होते हैं।
जाने माने ज्योतिषाचार्य पंडित राजेंद्र तिवारी बताते हैं कि अपने वृक्ष होने का अर्थ है, उस ग्रह या नक्षत्रों के प्रतिनिधि। ऐसे वृक्ष जिन पर उक्त ग्रहों का प्रभाव रहता है। इसलिए वैदिक साहित्य में “वृक्ष पूजन” का निर्देश है।
जब कोई व्यक्ति परेशानियों में घिर जाता है तब ज्योतिषी जन्मकुंडली के आधार पर सबसे पहले यह जानने का प्रयास करते हैं कि किस ग्रह नक्षत्र, राशि या राशि स्वामी के कारण वह जातक परेशान है।
पुनः उस ग्रह अथवा राशि के कारकत्व को आधार बनाकर जातक की परेशानी दूर करता है। उन कारकतत्व में पेड़-पौधे भी आते हैं। जन्म कुंडली में बुरे ग्रहों के प्रभाव को कम करने के लिए तथा शुभ ग्रहों के शुभत्त्व को बढ़ाने के लिए निर्धारित पेड़-पौधों की सेवा तथा उसकी जड़ को धारण करने का विधान है।


ग्रह, राशि, नक्षत्र के आधार पर पेड़-पौधे का प्रयोग करने से सकारात्मक सोच का संचार होता है। वे परिस्थितियों को अनुकूल करने में सहायक सिद्ध होते हैं।
यह भी पढ़ें ...
कृषि कानूनों के जरिए पूंजीपतियों को लाभ पहुंचा रही सरकार: नरेश उत्तम
Daily Insider Desk • Sat, 11 Sep 2021 8:16 pm IST
सर्जरी से पहले राखी सावंत ने अपने मूड को किया लाइट, अस्पताल में बॉयफ्रेंड संग 'आफत' सॉन्ग पर किया डांस, देखें वीडियो
Daily Insider Desk • Tue, 30 Aug 2022 10:30 am IST
तेजी से फैल रहा है कोरोना संक्रमण, 28 जिलों में रेड जोन घोषित
Daily Insider Desk • Thu, 9 Jun 2022 9:00 am IST
गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने की सुरक्षा बढ़ाने की मांग, कहा- “हां सिद्धू मूसेवाला को मार डाला”
Daily Insider Desk • Fri, 3 Jun 2022 1:30 pm IST
अन्तर्राज्यीय शातिर वाहन चोर गिरफ्तार, 5 बाइक बरामद
Daily Insider Desk • Mon, 31 Jan 2022 6:22 pm IST
मुख्यमंत्री को अपशब्द कहने वाले पर होगी कार्रवाई: प्रवीण गुप्ता
Daily Insider Desk • Sat, 25 Dec 2021 2:41 pm IST