Read in App

Daily Insider Desk
• Sat, 16 Jul 2022 12:26 pm IST

ब्रेकिंग

ज्ञानवापी विवाद: पुरातात्विक सर्वेक्षण और कार्बन डेटिंग के लिए अदालत में अर्जी देने की तैयारी में हिंदू पक्ष

वाराणसी: सुप्रीम कोर्ट के वकील अश्विनी उपाध्याय ने ज्ञानवापी परिसर में स्थित मां शृंगार गौरी केस की चल रही सुनवाई को लेकर बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि, कोर्ट की तरफ से जैसे ही आदेश आएगा कि, मामला सुनवाई के योग्य है। उसी समय  कोर्ट में एक अर्जी दाखिल की जाएगी। जिसमें ज्ञानवापी परिसर के पुरातात्विक सर्वेक्षण और कार्बन डेटिंग की मांग की जाएगी।

अश्विनी उपाध्याय ने आगे कहा कि, ज्ञानवापी में मिला शिवलिंग कितना पुराना है। इसका पता कार्बन डेटिंग से चल जाएगा। इसके साथ ही 18 जुलाई को एक और अर्जी अदालत में दी जाएगी। जिसमें ज्ञानवापी परिसर में पत्रकारों को जाने की अनुमति देने की मांग की जाएगी। जिससे मीडिया ज्ञानवापी का सच लोगों को बता सके।