Read in App

Daily Insider Desk
• Wed, 13 Jul 2022 4:57 pm IST

एक्सक्लूसिव

गुरु पूर्णिमा: सहायक जिला रोजगार अधिकारी ने पिता को बताया जीवन का पहला गुरु

  • रोजगार अधिकारी रामवीर ने कहा- पिता के आशीर्वाद से जीवन हुआ आसान

बरेली: सहायक जिला रोजगार अधिकारी रामवीर सिंह ने कहा कि गुरु का हर किसी के जीवन में महत्व होता है। हमारे यहां की भी परम्परा गुरुओं को सम्मान देने की रही है। वह भी अपने गुरुओं को बेहद सम्मान देते हैं। उन्हें लगता है कि अगर उनके गुरु जीवन में नहीं होते तो शायद उन्हें इतनी आसानी से सफलता नहीं मिलती।

सहायक जिला रोजगार अधिकारी रामवीर सिंह ने डेली इनसाइडर से विशेष बातचीत में बताया कि वह बदायूं जिले के रहने वाले हैं। उनकी शिक्षा बदायूं जिले से हुई। अपने गुरुजनों और बड़ों के आशीर्वाद से सहायक जिला रोजगार के पद पर कार्यरत हैं। उन्होंने कहा कि वह गुरु पूर्णिमा के मौके पर अपने गुरुओं को शुभकामनाएं देते हैं। गुरुजनों की प्रेरणा और उनके द्वारा दी गई शिक्षा से आज वह इस मुकाम तक पहुंचे हैं।

गुरुओं को किया नमन

अधिकारी रामवीर सिंह ने कहा कि उनके पिता ही प्राथमिक स्कूल में उनके पहले गुरु थे। वहीं से उन्होंने बदायूं के हजरतपुर से अपनी शुरुआती शिक्षा ली। उसके बाद 12वीं की शिक्षा योगेश्वर इंटर कॉलेज से लीउस दौरान वहां के प्राचार्य का विशेष योगदान रहा। स्नातक की शिक्षा में आशीष सक्सेना, प्रशांत कोहली, असन लाल सर का भी उनके जीवन में खास रोल रहा। वहीं, करियर के नजरिए से श्रीकृष्ण बधेल सर, अर्चना मैम, सलीम सर का विशेष योगदान रहा। वह गुरु पूर्णिमा के मौके पर देव तुल्य गुरुजनों को नमन करने के साथ उनके दीर्घायु होने की कामना करते हैं।