Read in App

Daily Insider Desk
• Sat, 16 Jul 2022 5:28 pm IST

ब्रेकिंग

नगरपालिका की नियत पर संदेह जताते हुए एसडीएम को दिया ज्ञापन


पहले भी पार्क की जगह पर लाल मार्केट का निर्माण करा चुकी है नगर पालिका

बरेली: नवाबगंज नगर के एक दर्जन से अधिक लोगों ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। उसमे चेतराम पार्क के पीछे की जगह पर नगरपालिका के कब्जा करने का संदेह जताया गया है। 

ज्ञापन मे कहा गया है कि नेशनल हाइवे के किनारे नगरपालिका प्रशासन पूर्व विधायक स्व. चेतराम स्मारक पार्क का निर्माण करवा रही है। यह एनएचएआई व राजस्व विभाग की वेशकीमती भूमि है। नगरपालिका यहां पार्क निर्माण कराकर भविष्य में जमीन पर कब्जा करने की जुगत में है। वर्खास्त पालिकाध्यक्ष ने पूर्व में अपने कार्यालय के सामने इसी प्रकार  गोविंद सिंह पार्क का निर्माण कराया था।  फिर यहां बड़ा नाला बनवाकर उसके ऊपर लाल मार्केट का निर्माण कर करोड़ों का गोलमाल कर लिया।लाल मार्केट निर्माण का भी विरोध हुआ था, जिसे लेकर आज भी विभिन्न मामले दीवानी न्यायालय में विचाराधीन हैं।  

ज्ञापन मे कहा गया है कि निर्माणाधीन पार्क की चाहरदीवारी देखकर यह कहा ही नही जा सकता कि यहां पार्क बनेगा। पार्क की वाउंड्रीवाल को मतबूत बीम व पिलर के साथ बनाया जा रहा है। जो कि नौ इंची बनाए जाने के साथ ही 6 फिट ऊॅची बनाई जा रही है। जिसमें एक ही गेट लगाया जा रहा है। नगरपालिका के स्वीकृत मानचित्र में दो गेट प्रस्तावित हैं। वाउंड्रीवाल में कहीं भी ग्रिल नही लगाई गई है। जबकि पार्को की वाउंड्रीवाल चार इंच में बनने के साथ ही ग्रिल लगाई जाती है, जिससे पार्क की गति विधियों को बाहर से देखा जा सके। 

यही नहीं पार्क को वर्तमान तल से तीन से चार फिट उठाकर मिट्टी भराव करके बनाने का प्रस्ताव पारित किया गया है। जबकि पार्क के तीन ओर से नाला गुजर रहा है। जिससे यहां जल भराव होने की कोई भी संभावना नही है। पार्क के बीच खड़े छायादार वृक्षों को काटकर कर्मचारी आवास बनाने का प्रस्ताव है जो पर्यावरण की द्रष्टि से गलत है। पार्क के रखरखाव व देखरेख के लिए यहां दो बड़े कमरे बनाने का भी प्रस्ताव है, जबकि पार्क के निकट ही जल विभाग का कार्यालय है जिसमें हर समय कर्मचारी की ड्यूटी रहती है फिर पार्क में कमरे बनाने का कोई औचित्य नही है।  

स्व. चेतराम पार्क का प्रस्ताव बर्खास्त पालिकाध्यक्ष शहला ताहिर ने अपने कार्यकाल के दौरान ही किया है। पालिकाध्यक्षा को कई बार अनियमित्ताओं के चलते निलंबित करने के साथ ही वित्तीय अधिकार सीज किए जा चुके हैं। राज्यपाल ने उन्हे बर्खास्त किया हुआ है। पार्क का निर्माण पालिकाध्यक्ष के सगे रिस्तेदार से कराया जा रहा है। जिसमें बड़ा घोटाला होने की संभावना है। यही नही पार्क के निर्माण के लिए एनएचएआई व राजस्व विभाग से अनुमति नही ली गई है, जिसके चलते एनएचएआई व राजस्व विभाग कभी भी पार्क को ध्वस्त करवा सकता है। नगरपालिका का धन बर्बाद होने की संभावना है।
 
चेतराम पार्क की वाउड्रीवाल उॅचाई कम करके लगेगी ग्रिल

लेखपाल प्रशिक्षण केन्द्र के पास बन रहे स्व. चेतराम पार्क को लेकर नगर के लोगों ने एसडीएम नवाबगंज को ज्ञापन सौप कर उसके निर्माण पर भविष्य में पालिका प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाने की शंका जाहिर करते हुए ज्ञापन सौपा गया था।  एसडीएम राजीव कुमार शुक्ल ने बताया कि उन्होने इस पार्क को देखा था और उन्हे भी लगा कि निर्माण पार्क के अनुसार नही हो रहा है। उन्होने ईओ शौलेन्द्र कुमार गुप्ता को ठेकेदार से चाहरदीवारी की ऊॅचाई को कम कराने के साथ ही उसमें ग्रिल लगवाने को कहा है। उसमे होने बाली गतिविधियों को सड़क से देखा जा सके। वर्तमान स्थिति में यहां आसमाजिक तत्वों का बसेरा होने की संभावना का अंदेशा होना संभव है।