Read in App

Daily Insider Desk
• Fri, 15 Jul 2022 6:18 pm IST

राजनीति

प्रदेश में सूखे की स्थिति, सरकार किसानों को दे तत्काल राहत पैकेज: अनिल दुबे

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल दुबे ने प्रदेश में सूखे के हालात पर गहरी चिंता जताते हुए कहा है कि मौसम की बेरूखी से किसानों की हालत दिन-प्रतिदिन बिगड़ रही है। प्रदेश के कई इलाकों में सूखे के कारण 50 प्रतिशत भी धान की रोपाई किसान नहीं कर पायें हैं और किसी तरह जिन इलाकों में रोपाई का काम किसान कर लिये हैं। उनकी लागत लगातार सिंचाई के कारण बढ़ रही है, लेकिन प्रदेश सरकार किसानों की स्थितियों पर कोई भी ध्यान नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में किसानों के सामने मानसून की बेरूखी से उत्पन्न गम्भीर संकट पर सरकार तत्काल ध्यान दे और प्रदेश के सभी किसानों को 5 हजार रूपये प्रति एकड़ के हिसाब से हर किसान को तत्काल अन्तिरिम राहत प्रदान करे। साथ ही बाद में सूखे के कारण किसानों की फसलों का हुए नुकसान का सर्वे कराकर किसानों को उचित मुआवजा देने की भी घोषणा करे।

अनिल दुबे ने अपने बयान में कहा कि मौसम की बेरूखी ने किसानों की कमर तोड़ दी है। सावन के महीने की शुरूआत हो चुकी है लेकिन बरसात न होने कारण किसान बर्बादी की कगार पर हैं। प्रदेश की नहरों में पानी का संकट है तो दूसरी ओर किसानों को पर्याप्त खाद भी नहीं मिल रही है। जरूरत के अनुसार बारिश न होने से नदियों के जलस्तर में कमी हुई है। जलाशयों का जलस्तर नीचे जा रहा है और नहरों के चालू न होने व बारिश न होने से किसान धान की रोपाई नहीं कर सके हैं। वहीं बाजारा, मक्का, मकई, तिल आदि की खेतीबाड़ी भी नाम मात्र की हुई है। जिन किसानों ने निजी संसाधनों से धान की रोपाई व अन्य फसलों की बुवाई कर ली है उन्हें जरूरत के अनुसार खाद नहीं मिल पा रही है और किसान साधन सरकारी समितियों के चक्कर लगा रहा है। दुबे ने प्रदेश सरकार से किसानों की समस्याओं के तत्काल निराकरण की मांग की है।