Read in App

Daily Insider Desk
• Sat, 16 Jul 2022 12:42 pm IST

ब्रेकिंग

पीएम मोदी ने किया बुंदेलखंड एक्‍सप्रेसवे का उद्घाटन, बोले- अब औद्योगिक प्रगति को भी मिलेगी गति

लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को जालौन में 296 किलोमीटर लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का उद्घाटन किया है। इस एक्सप्रेस वे का शिलान्यास 29 फरवरी, 2020 को हुआ था, जिसका संपूर्ण काम 28 महीने के अंदर पूरा कर लिया गया है। बुंलेदखंड एक्‍सप्रेस-वे के उद्घाटन कार्यक्रम में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ, मंत्री स्‍वतंत्र देव सिंह, मंत्री नंद गोपाल नंदी और उप मुख्‍यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य समेत कई मंत्री व अधिकारी मौजूद हैं।


बुंदेलखंड की औद्योगिक प्रगति को देगा गति

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए कहा, जिस धरती ने अनगिनत शूरवीर पैदा किए, जहां के खून में भारतभक्ति बहती है, जहां के बेटे-बेटियों के पराक्रम और परिश्रम ने हमेशा देश का नाम रौशन किया है, उस बुंदेलखंड की धरती को आज एक्सप्रेसवे का ये उपहार देते हुए मुझे विशेष खुशी मिल रही है। उन्‍होंने कहा कि बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे से चित्रकूट से दिल्ली की दूरी तो 3-4 घंटे कम हुई ही है, लेकिन इसका लाभ इससे भी कहीं ज्यादा है। ये एक्सप्रेसवे यहां सिर्फ वाहनों को गति नहीं देगा, बल्कि ये पूरे बुंदेलखंड की औद्योगिक प्रगति को गति देगा

पीएम मोदी ने कहा, मैं दशकों से उत्तर प्रदेश आता जाता रहा हूं, यूपी के आशीर्वाद से पिछले 8 साल से देश के प्रधानसेवक के रूप में कार्य करने का आप सबने जिम्मा दिया है। लेकिन मैंने हमेशा देखा कि अगर उत्तर प्रदेश में 2 महत्वपूर्ण चीजें जोड़ दी जाएं, तो उत्तर प्रदेश चुनौतियों को चुनौती देने की बहुत बड़ी ताकत के साथ खड़ा हो जाएगा।


'बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे' एवं 'इंडस्ट्रियल कॉरिडोर' के निर्माण से मिलेगा रोजगार: सीएम  

इससे पूर्व सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे बुंदेलखंड के विकास का जीवंत प्रमाण है। यह एक्सप्रेसवे क्षेत्र को नई पहचान दिलाकर यहां औद्योगिक निवेश को आमंत्रित करने का नया माध्यम बनेगा। उन्‍होंने कहा, 'बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे' एवं 'इंडस्ट्रियल कॉरिडोर' के निर्माण से प्रदेश में रोजगार के अवसर सृजित होंगे। यह एक्सप्रेस-वे उ.प्र. के विकास में मील का पत्थर साबित होगा। 'बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे' को हरा-भरा बनाने हेतु इसके दोनों किनारों पर 07 लाख पौधे लगाए जाएंगे। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि यूपी के सात जनपदों से गुजरने वाला यह एक्सप्रेस-वे आवागमन में सुधार करने के साथ ही पर्यावरण संरक्षण की दिशा में भी सहायक सिद्ध होगा। आज उत्तर प्रदेश सुगम एवं विश्वस्तरीय कनेक्टिविटी के माध्यम से समृद्धि के नए आयाम स्थापित कर रहा है।