Read in App

Daily Insider Desk
• Tue, 12 Jul 2022 7:36 pm IST

ब्रेकिंग

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे की शुरुआत के साथ यूपी सरकार के नाम दर्ज होगा एक और बड़ा रिकॉर्ड

यूपी सरकार के नाम दर्ज होगा सबसे ज्यादा एक्सप्रेस-वे निर्माण का रिकॉर्ड

लखनऊ: सीएम योगी प्रदेश में एक्सप्रेस-वे का जाल बिछाने के अपने दावे को पूरा करने के साथ एक और बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम करने जा रहे है। लगभग 28 महीने के रिकॉर्ड समय में बनकर तैयार हुए बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 जुलाई को लोकार्पण करने जा रहे है। बता दें पहले चित्रकूट से दिल्ली तक सफर तय करने में लगभग 9 से 10 घंटे लगते थे, लेकिन अब बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे से यात्रियों को दिल्ली पहुंचने में 5 से 6 घंटे का समय लगेगा। वहीं बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे प्रदेश के सात जनपदों से होकर गुजरेगा, जिसमें इटावा और औरैया के अलावा बुंदेलखंड के जालौन, हमीरपुर, महोबा, बांदा और चित्रकूट शामिल हैं।

13 एक्सप्रेसवे वाला देश का पहला राज्य बना यूपी

सीएम योगी के ड्रीम प्रोजेक्ट बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे की शुरुआत के साथ यूपी दुनिया के कई देशों से अधिक एक्सप्रेसवे कनेक्टिविटी देने का रिकॉर्ड अपने नाम करेगा। वर्तमान में छह एक्सप्रेस वे के संचालन के साथ यूपी सरकार 32 सौ किमी के कुल 13 एक्सप्रेसवे में से सात पर काम कर रही है। 296 किमी लंबा बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे बुंदेलखंड को सीधा दिल्ली से जोड़ेगा। यूपी में यमुना एक्सप्रेसवे, नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे, दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे, पूर्वांचल एक्सप्रेसवे, के साथ बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का संचालन भी किया जाएगा। वहीं  गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे, गंगा-एक्सप्रेस वे, लखनऊ-कानपुर एक्सप्रेसवे, गाजियाबाद-कानपुर एक्सप्रेसवे, गोरखपुर-सिलिगुड़ी एक्सप्रेसवे, दिल्ली-सहारनपुर-देहरादून एक्सप्रेसवे, गाजीपुर-बलिया-मांझीघाट एक्सप्रेसवे का कुल 1974 किमी लंबा जाल बिछाया जाना अभी बाकी है।