बरेली में रिश्वत लेते पकड़ा गया होमगार्ड, जिला कमांडेंट का नाम भी शामिल

बरेली: नाथनगरी में एंटी करप्शन टीम ने जिला कमांडेंट होमगार्ड के कहने पर रिश्वत लेते होमगार्ड को गिरफ्तार किया है। उसकी स्कूटी की डिक्की से एक लाख रुपये बरामद किए गए हैं। बारादरी थाने में जिला कमांडेंट होमगार्ड और होमगार्ड के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।
जानकारी के अनुसार, आंवला के होमगार्ड सतीश चंद्र वर्मा ने एंटी करप्शन ब्यूरो में शिकायत दर्ज कराई थी। आरोप लगाया था कि परेड बहाली के नाम पर उनसे रिश्वत मांगी जा रही है। बुधवार को सतीश चंद्र रुपये देने के लिए सेटेलाइट बस अड्डे पर पहुंचे। इससे पहले उन्होंने एंटी करप्शन टीम को सूचना दे दी। सतीश चंद्र वर्मा ने बस अड्डे पर जिला कमांडेंट के सहयोगी होमगार्ड को रुपये दिए।

एंटी करप्शन टीम की पूछताछ में हुआ खुलासा

इसी दौरान एंटी करप्शन टीम ने वहां पहुंचकर होमगार्ड को पकड़ लिया। उसकी स्कूटी की तलाशी ली गई। डिक्की से एक लाख रुपये बरामद हुए। आरोपी ने बताया कि जिला कमांडेंट के कहने पर उसने रिश्वत ली है। एंटी करप्शन टीम आरोपी होमगार्ड को लेकर बारादरी थाने पहुंची, टीम ने उससे पूछताछ की। भ्रष्टाचार के मामले में थाना बरादरी में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है, जिसमें जिला कमांडेंट होमगार्ड शैलेंद्र प्रताप सिंह को भ्रष्टाचार का आरोपी भी बनाया गया है।