महोबा में लू व गर्मी से हालात खराब, किसान समेत 12 लोगों की हुई मौत

महोबा: जनपद में भीषण गर्मी जानलेवा बन गई है। यहां लू और गर्मी की चपेट में आकर किसान सहित 12 लोगों की मौत हो गई। वहीं, गर्मी से हालत बिगड़ने पर छह लोगों को जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया। हालात यह हैं कि रात में भी तापमान ज्‍यादा होने से सुकून नहीं मिल पा रहा है।

कस्बा श्रीनगर के रहने वाले कल्लू कुशवाहा (60) को रविवार को घर पर लू लग गई। जिला अस्पताल लाते समय उसकी मौत हो गई। रतौलीपुरवा निवासी हरी अनुरागी (35) को पहाड़ पर काम के दौरान लू लग गई। परिजन जिला अस्पताल लाए, लेकिन रास्ते में उसकी मौत हो गई। रैपुराकलां निवासी खज्जी परिहार (72) की खेत में काम करते समय लू लगने से मौत हो गई। वहीं, थाना खरेला के कुआं गांव निवासी जानकी कुशवाहा (40) मकरबई पहाड़ में छेद करने का काम करता था। लू लगने पर परिजन सीएचसी कबरई ले गए। हालत नाजुक होने पर परिजन अस्पताल लाने लगे, लेकिन रास्ते में उसने दम तोड़ दिया।

अचेत अवस्‍था  में मिला युवक, डॉक्‍टर ने घोषित किया मृत

इसी तरह छिकहरा निवासी कल्लू पाल (49) की खेत में बकरी चराते समय लू लगने से मौत हो गई। रैपुराकलां निवासी विश्वनाथ (65) व मुन्नीलाल अहिरवार (65) खेत पर जुताई कराने गए थे। तभी लू लगने से दोनों की मौत हो गई। कस्बा चरखारी के मोहल्ला कजियाना निवासी सुनील कुमार (48) को लू लग गई। परिजन उसे अस्पताल लाए, लेकिन रास्ते में उनकी मौत हो गई। कस्बा कुलपहाड़ के मोहल्ला किशोरगंज निवासी विनोद श्रीवास (47) नौगांव मार्ग पर अचेत अवस्था में पड़ा मिला। सूचना पर पुलिस ने युवक को जिला अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। उसकी लू लगने से मौत की आशंका जताई जा रही है।

बगरौन निवासी रघु प्रजापति (55) खेत पर बकरी चराने गया था। तभी लू लगने से उसकी मौत हो गई। रैपुराकलां निवासी किसान बाबूराम (78) को खेत पर काम करते समय लू लग गई। परिजन उन्हें अस्पताल लाए। जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। महोबकंठ संवाद के अनुसार ब्यारजौ निवासी ओमप्रकाश (55) की खेत में बकरी चराते समय लू लगने से मौत हो गई।