UP RO-ARO पेपर लीक मामले पर राहुल गांधी ने पूछा सवाल… जवाब मिला- सर मैं

Bharat Jodo Nyay Yatra in UP: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि जाति जनगणना देश का एक्सरे है, इससे दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. स्वराज भवन से निकलकर इलाहाबाद विश्वविद्यालय के पास लक्ष्मी टाकीज चौराहे पर उन्होंने कहा, “जाति जनगणना आपका (युवाओं) का हथियार है और आपको पता लगाना है कि आपकी आबादी कितनी है और दूसरे नंबर पर पता लगाना है कि देश के धन पर आपकी कितनी हिस्सेदारी है.”

उन्होंने कहा, “इस देश में 73 प्रतिशत जातियों के पास कितना धन है? जाति जनगणना देश का एक्सरे है. इससे सब पता लग जाएगा तथा दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा.” भीड़ से एक छात्र को अपनी जीप पर बुलाकर राहुल गांधी ने उससे पूछा, “आप कौन-से वर्ग से हैं.” छात्र ने जवाब दिया कि वह ओबीसी वर्ग से है. इस पर राहुल गांधी ने कहा, “देश में ओबीसी वर्ग 50 प्रतिशत है, दलित वर्ग 15 प्रतिशत है और आदिवासी वर्ग आठ प्रतिशत है.”

उन्होंने कहा, “इस देश में आप जैसे युवाओं का कोई भविष्य नहीं है. आपकी (ओबीसी, दलित, आदिवासी) आबादी 73 प्रतिशत है, लेकिन हिंदुस्तान में शीर्ष 200 कंपनियों में से एक कंपनी का भी मालिक ओबीसी, दलित नहीं है. देश के सबसे बड़े 90 आईएएस अधिकारियों की सूची में महज तीन लोग आपके वर्ग से हैं. मीडिया में आपका एक भी आदमी नहीं है.”

बीजेपी पर लगाए आरोप

उद्योगपतियों को लेकर सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा ,‘‘ ये लोग (बीजेपी) कभी किसानों का कर्ज माफ नहीं करते. उन्होंने 10-15 उद्योगपतियों का 14 लाख करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया है. ये लाखों करोड़ रुपये का बैंक कर्ज मांगते हैं और सेकेंडों में उनको कर्ज मिल जाता है, लेकिन दलित, पिछड़ों को बैंकों से मारकर भगा दिया जाता है.’’ कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने बताया कि राहुल गांधी प्रयागराज हवाईअड्डे से सीधे स्वराज भवन पहुंचे जहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मुलाकात के बाद उन्होंने भारत जोड़ो न्याय यात्रा निकाली. उनके अनुसार यह यात्रा तेलियरगंज, फाफामऊ, होलागढ़ होते हुए मऊआइमा जाएगी जहां यात्रा का ठहराव होगा. रविवार को शाम चार बजे स्वराज भवन से खुली जीप में निकली इस यात्रा में राहुल गांधी के साथ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय राय और पूर्व विधायक अनुग्रह नारायण सिंह मौजूद थे.