प्रसार भारती के चेयरमैन बने पूर्व आईएएस नवनीत सहगल, तीन साल का होगा कार्यकाल 

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश के पूर्व आईएएस अधिकारी नवनीत सहगल को प्रसार भारती का चेयरमैन बनाया गया है। उनकी नियुक्ति को सूचना व प्रसारण मंत्रालय ने मंजूरी दे दी है। सहगल का यह कार्यकाल तीन साल का होगा। बहुजन समाज पार्टी, समाजवादी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी की सरकार में अहम भूमिका में रहे नवनीत सहगल बीते साल 35 वर्ष की लंबी सेवा के बाद रिटायर हुए थे।

1988 बैच के आईएएस अधिकारी नवनीत सहगल मायावती सरकार में मुख्यमंत्री के सचिव रहे। उस समय पंचम तल पर वे सबसे प्रभावशाली अधिकारियों में से एक माने जाते थे। हालांकि, वर्ष 2012 में सपा सरकार बनने पर उन्हें हटाकर प्रतीक्षा में डाल दिया गया। लेकिन, कुछ समय बाद ही उन्हें दोबारा तैनाती दे दी गई।

यूपीडा की भी जिम्‍मेदारी निभा चुके हैं सहगल

दो वर्ष ही पूरे हुए थे वह 2014 में मुख्य धारा में लौटे और प्रमुख सचिव सूचना बना दिए गए। तत्कालीन सीएम अखिलेश यादव के सबसे भरोसेमंद अधिकारियों में से वह एक रहे। उनके पास सूचना विभाग के अलावा यूपीडा की भी जिम्मेदारी रही। यूपीडा के सीईओ रहते उन्होंने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे के निर्माण की जिम्मेदारी संभाली।

नवनीत सहगल को योगी सरकार के पहले कार्यकाल में सूचना जैसे अहम विभाग की जिम्मेदारी मिली थी, लेकिन योगी सरकार-2 के गठन के कुछ समय बाद ही उनके समीकरण बिगड़ने लगे। उन्हें 31 अगस्त, 2022 को खेल विभाग में भेज दिया गया। हालांकि, उन्होंने खेल विभाग में भी कई महत्वपूर्ण काम किए।